e-shram card : योगी सरकार से महीने के 500 रुपये लेना चाहते हैं तो अब ई-श्रम पोर्टल पर करें रजिस्ट्रेशन

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार मार्च 2022 तक असंगठित क्षेत्र के 3 करोड़ से अधिक मजदूरों को उनके बैंक खातों में 500-500 रुपये भेजेगी। यदि आपके पास ई-श्रम कार्ड है और आप उत्तर प्रदेश के निवासी हैं, तो आप भी हो सकते हैं इस राशि के हकदार हैं और अभी तक पंजीकृत नहीं हैं, तो इसे जल्द ही करवाएं।

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने असंगठित क्षेत्र के करीब ढाई करोड़ मजदूरों और करीब 60 लाख पंजीकृत मजदूरों को दिसंबर से मार्च तक हर महीने पांच सौ रुपये देने का ऐलान किया है. बता दें कि सीएम योगी आदित्यनाथ के इस ऐलान के बाद पिछले दो दिनों में ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराने वाले कर्मचारियों की संख्या में तेजी से इजाफा हुआ है. शुक्रवार तक यूपी के 25691084 श्रमिकों ने अपना पंजीकरण कराया था। सोमवार सुबह 7:50 बजे तक इनकी संख्या अब बढ़कर 2,76,23,140 हो गई है।

E-shram card: If you want to take 500 rupees per month from Yogi government, then register on e-shram portal now
E-shram card: If you want to take 500 rupees per month from Yogi government, then register on e-shram portal now

पंजीकरण के लिए आवश्यक दस्तावेज

• आधार संख्या
• आधार से लिंक मोबाइल नंबर

बैंक खाता

यदि किसी कार्यकर्ता के पास आधार से जुड़ा मोबाइल नंबर नहीं है, तो वह निकटतम सीएससी पर जा सकता है और बायोमेट्रिक प्रमाणीकरण के माध्यम से पंजीकरण कर सकता है।

इन बातों का रखें ध्यान: ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करने से पहले कुछ बातों का ध्यान रखना होगा। उदाहरण के लिए, कार्यकर्ता की आयु 16 वर्ष से अधिक और 60 वर्ष से कम होनी चाहिए। इसके अलावा, कार्यकर्ता आयकर का भुगतान नहीं करता है। इसका मतलब यह है कि यदि कर्मचारी करदाता है, तो वह पोर्टल पर पंजीकरण करने का हकदार नहीं है। वहीं कर्मचारी ईपीएफओ और ईएसआईसी का सदस्य होने पर भी पोर्टल पर पंजीकरण नहीं करा सकता है।

यूपी में जिन लोगों के पास ई-श्रम कार्ड है, उनमें सबसे ज्यादा 13388542 करोड़ श्रमिक कृषि क्षेत्र से जुड़े हैं। ई-श्रम पोर्टल पर दिए गए आंकड़ों के अनुसार दूसरे नंबर पर घरेलू कामगार हैं, जिनकी संख्या 4340111 है। वहीं, निर्माण क्षेत्र में लगे श्रमिकों की संख्या 2573740 है। आपको बता दें कि लक्ष्य का पंजीकरण होना चाहिए। ई-श्रम पोर्टल पर देश के लगभग 38 करोड़ श्रमिक। इनमें से अब तक 12.30 करोड़ से अधिक श्रमिकों का पंजीकरण हो चुका है।

यूपी के जिन मजदूरों ने ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराया है उनमें पूर्वांचल के लोग सबसे आगे हैं। इसमें अब तक कुशीनगर टॉप पर है। महाराजगंज, गोरखपुर, बहराइच, सिद्धार्थनगर और गोंडा जिलों का नाम कुशीनगर के नाम पर रखा गया है। कुशीनगर जिले के 933575 और महराजगंज के 896869 श्रमिकों ने पंजीकरण कराया है। वहीं गोरखपुर से 825482 और बहराइच से 658689 श्रमिक पंजीकृत हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *